Trending News

यूपी: लखनऊ, कानपुर, बहराइच, गोरखपुर, फिरोजाबाद में CAA प्रदर्शन के दौरान हिंसा, आगजनी-पथराव और फायरिंग

[Edited By: Gaurav]

Friday, 20th December , 2019 03:58 pm

नागरिकता सशोधन अधिनियम को लेकर विरोध प्रदर्शन उग्र हो चुका है. यूपी के कानपुर, लखनऊ, बहराइच, गोरखपुर में प्रदर्शन के दौरान हिंसा की खबरें सामने आ रही हैं. कानपुर में नमाज पढ़ने के बाद जुलूस निकला रहे प्रदर्शनकारियों को जब पुलिस ने रोकने की कोशिश की तो भीड़ ने पत्थरबाजी की. बताया जा रहा है कि प्रदर्शनकारियों की योजना कानपुर के पास मौजूद यतीमखाने में एक जलसा करने की थी, मगर पुलिस ने वहां पहुंचने से पहले ही रोकने की कोशिश की, जिसके बाद भगदड़ जैसी स्थिति उत्पन्न हो गई. प्रदर्शनकारियों ने मरी कंपनी पुल को कब्जे में ले लिया, जिसे पुलिस ने खाली कराने की कोशिश की, जिसके बाद दोनों में संघर्ष बढ़ गया. प्रदर्शनकारियों ने पुलिस की चार बाइकें भी फूंक दी.

कानपुर के पास ही परेड चौक पर नागरिकता कानून के खिलाफ प्रदर्शनकारियों ने प्रदर्शन किया. डीएम विजय विश्वास पांडे ने कहा कि प्रदर्शनकारियों को समझाया बुझाया गया. हमने किसी पर भी लाठीचार्ज नहीं किया. इससे पहले गुरुवार को लखनऊ में प्रदर्शनकारियों ने थाने के पास आगजनी की थी और तोड़फोड़ मचाया था. गुरुवार को हुए हिंसक प्रदर्शन में एक की मौत हो गई थी और कई घायल हो गए.

पूरे शरह में पुलिस, पीएसी और रैपिड एक्शन फोर्स तैनात हैं. शहर के बाबूपुरवा, मछरिया, बड़ा चौराहा सहित आधा दर्जन क्षेत्राें में उपद्रवी रह रह कर पथराव कर रहे हैं.बाबूपुरवा में हिंसक हुई भीड़ ने पुलिस की गाड़ियों में तोड़ फोड़ कर आग लगा दी है.उपद्रवियों ने कुछ दुकानों और एटीएम में भी तोड़फोड़ की है.

देश के विभिन्न हिस्सों में नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के विरोध को देखते हुए गोरखपुर में नखास में भीड़ बेकाबू हो गई है. भीड़ को समझाने आई पुलिस पर पथराव किया गया तो पुलिस ने भी लाठीचार्ज किया.आंसू गैस के गोले छोड़े जाने की भी सूचना मिल रही है. एडिशनल एसपी की गाड़ी का शीशा भी तोड़ दिया। एसएसपी सुनील कुमार गुप्ता ने कहा कि स्थिति नियंत्रण में है पुलिस पर पथराव करने वालों के साथ सख्ती पर की गई है इस मामले में जो भी लोग लिप्त हैं उन सब के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी, पुलिस अलर्ट पर है.

इधर मदीना चौक पर दो युवकों को संदिग्ध मानते हुए भीड़ ने पीट दिया. दोनों को नागरिक सुरक्षा कोर के एक पदाधिकारी के घर में छिपाया गया है। दोनों का नाम विकास जलाना और सत्य प्रकाश है. एडीएम सिटी राकेश कुमार श्रीवास्तव मौलवी की मदद से भीड़ को समझाने की कोशिश कर रहे हैं, लेकिन भीड़ हटने को तैयार नहीं है, दोनों को भीड़ के हवाले करने की मांग पर अड़ी है.

सर्तकता को देखते हुए सुबह से ही बड़ी मस्जिद इलाके में यानी सह मारूफ घंटाघर में दुकानें बंद कराई जा रही थी. जुमा की नमाज के बाद भारी तादात में मस्जिद पहुंचे लोगों ने बाहर विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया.पुलिस उन्हें मनाने का प्रयास कर रही है.


अब फिरोजाबाद में जबरदस्त बवाल, पुलिस की गाड़ी फूंकी, पथराव-फायरिंग

फिरोजाबाद में नागरिकता संशोधन कानून का जबरदस्त विरोध हो रहा है.शुक्रवार को थाना रसूलपुर क्षेत्र में धार्मिक स्थल से इबादत के बाद निकले लोग पुलिस से भिड़ गए। पुलिस पर जबरदस्त पथराव किया गया। कई गाड़ियों में आग लगा दी गई.कुछ उपद्रवियों ने फायरिंग भी की है. इस घटना में कुछ पुलिसकर्मी घायल हुए हैं। पूरे क्षेत्र में तनावपूर्ण हालात बने हुए हैं.
शुक्रवार को नागरिकता संशोधन कानून के विरोध के चलते फिरोजाबाद क्षेत्र में मोबाइल-इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी गई थी. फिरोजाबाद में चूड़ी के कारखाने भी बंद कर दिए गए थे. रोडवेज की गाड़ियों को बाईपास से गुजारा जा रहा था.

संवेदनशील स्थानों पर भारी पुलिसबल तैनात किया गया था. शुक्रवार दोपहर को जब नालबंद क्षेत्र में एक इबादतगाह से लोग जत्थे के रूप में निकले तो पुलिस ने उन्हें रोका. बाजारों की ओर जाने से रोकने पर लोगों ने पुलिस फोर्स पर पथराव कर दिया. पुलिस ने हवाई फायरिंग की तो उपद्रवियों ने भी फायरिंग कर डाली.

Latest News

World News