Trending News

'टिकटॉक' की लत से जुड़ी इन 5 मामलों की रिपोर्ट आपको करेगी हैरान

[Edited By: Gaurav]

Friday, 14th June , 2019 05:19 pm

मोबाइल पर सोशल मीडिया के मशहूर एप टिकटॉक की लत कुछ लोगों के लिए खतरनाक साबित हो रही है। पढ़िए इन 5 मामलों की पूरी रिपोर्ट जिसने लोगों को हैरान कर दिया है....

टिकटॉक वीडियो बनाते समय चली गोली, युवक की मौत

टिकटॉक इंडिया में डाउनलोड होने वाला सबसे बड़ा एप हो गया है। कुछ दिन पहले टिक टॉक पर बैन भी लगा था जो अब हट गया है। इस टिकटॉक वीडियो के चक्कर में लोगों की जान भी जा रही है। ऐसा ही एक मामला महाराष्ट्र के शिरडी से सामने आया है जहां टिक टॉक वीडियो बनाने के चक्कर में एक युवक की जान चली गई है। रिपोर्ट में कहा जा रहा है कि शिरडी का रहने वाला प्रतीक संतोष वाडेकर (19) अपने दोस्त सनी पवार (20), नितिन अशोक वाडेकर के साथ अपने अंकल की तेरहवीं में शामिल होने के लिए आया था। ठहरने के लिए उसने एक होटल में कमरा बुक किया था और उसी कमरे में वह अपने दोस्तों के साथ टिक टॉक वीडियो बना रहा था और उसके हाथ में देसी पिस्तौल था। वीडियो बनाने के दौरान गलती से गोली चल जाने के कारण प्रतीक की मौत हो गई।

10 लाख फॉलोअर्स वाले टिकटॉक सेलिब्रिटी को चोरी के मामले में पुलिस ने किया गिरफ्तार

सेलिब्रिटी हैसियत रखने वाले मुंबई के एक युवक अभिमन्यु गुप्ता को पुलिस ने लाखों की चोरी के आरोप में गिरफ्तार किया है। किशोरों और युवाओं में लोकप्रिय गुप्ता के टिक टॉक पर करीब दस लाख फॉलोअर हैं, जबकि इंस्टाग्राम पर संख्या इससे दोगुनी है। अभिमन्यु टिक टॉक और सोशल मीडिया पर ग्रुप 07 नाम से चर्चित एक समूह का भी सदस्य है। जुहू पुलिस ने अभिमन्यु को कुर्ला में एक बुजुर्ग दंपति द्वारा घर में लाखों की चोरी के मामले में गिरफ्तार किया। उससे पुलिस ने 150 ग्राम सोना और 4.5 लाख रुपये का एक मोबाइल फोन बरामद किया। अभिमन्यु ने पुलिस की पूछताछ में स्वीकार किया कि वह इससे पहले भी चोरी की वारदातों को अंजाम दे चुका है। उस पर चोरी के कम से कम पांच मामले दर्ज हैं। स्थानीय मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, जनवरी में एक बुजुर्ग दंपति ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी कि किसी ने उनके घर में तोड़-फोड़ करते हुए 150 ग्राम सोने के गहने और 4.75 लाख रुपये के मोबाइल चोरी किए हैं। शिकायत के बाद मुंबई पुलिस ने बिल्डिंग में लगे सीसीटीवी फुटेज खंगाले जिसमें उन्हें अभिमन्यु की तस्वीरें दिखाई दीं। उसके बाद पुलिस ने जांच के बाद अभिमन्यु को हिरासत में ले लिया। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि शुरुआती फुटेज में कुछ भी साफ नहीं दिखा और हम उसकी (अभिमन्यु) पहचान नहीं कर पाए। बाद में जब कुछ और फुटेज देखे तब उसकी साफ फोटो मिली, जिसके बाद आरोपी को कुर्ला से गिरफ्तार किया। पुलिस अधिकारी ने बताया कि गिरफ्तारी के बाद पहले तो अभिमन्यु ने कुछ नहीं बताया लेकिन थोड़ी सख्ती बरतने पर वह टूट गया। उसने बताया कि चोरी किए गहने और मोबाइल अपने एक दोस्त के पास रखे हैं।

टिकटॉक स्टार की हत्या की योजना बनाने वाला गिरफ्तार

दिल्ली के नजफगढ़ में हुई टिक टॉक स्टार मोहित मोर की हत्या के मामले में पुलिस ने एक अन्य आरोपी को गिरफ्तार किया है। इस आरोपी की पहचान संदीप पहलवान के तौर पर हुई है। 32 वर्षीय संदीप वही शख्स है, जिसने 3 अन्य लोगों को संदीप को मारने के लिए भेजा था। इनमें से एक को पुलिस पहले ही सीसीटीवी फुटेज के आधार पर गिरफ्तार कर चुकी है। पुलिस उपायुक्त (द्वारका) एंटो अल्फोंस ने बताया कि एक गुप्त सूचना के आधार पर पुलिस ने पहलवान के आवास पर छापा मारा और सोमवार को उसे गिरफ्तार कर लिया। जांच में पता चला है कि संदीप ने ही मोर की हत्या की पूरी योजना बनाई थी और मारने के लिए भेजे गए तीनों लोगों को हथियार दिए थे।

टिकटॉक की वजह से महिला ने की आत्महत्या

तमिलनाडु के अरियालुर में 24 वर्षीय महिला ने टिकटॉक एप के कारण सुसाइड कर लिया। महिला इस एप की इतनी एडिक्ट हो चुकी थी कि उसका सारा समय टिकटॉक पर वीडियो बनाने में ही बीतता था। अनीता ने जहर पीते हुए टिकटॉक पर ही खुद का वीडियो भी रिकॉर्ड किया। अनीता के परिवार में उसका 29 वर्षीय पति (जोकि सिंगापुर में काम करता है) चार साल की बेटी और दो साल का बेटा शामिल हैं. अनीता ने आत्महत्या करने से पहले रिकॉर्ड किए वीडियो में अपने पति से बच्चों का ध्यान रखने और जिम्मेदारी उठाने की बात कही। अनीता को टिकटॉक एप के बारे में उसकी दोस्त से पता चला था. इसके बाद अपना पूरा समय वो इस एप में देने लग गई. उसके परिवार वालों ने विरोध जताते हुए कहा था कि अनीता टिक-टॉक एडिक्ट होने के कारण अपने परिवार और बच्चों पर ध्यान देने की बजाय उन्हें नजरंदाज कर रही है। बावजूद इसके जब उसकी आदत में बदलाव नहीं हुआ तो उसके परिवार वालों ने अनीता के पति को इस बात की जानकारी दी। पलनिवेल ने अनीता को इस मामले में समझाया और उसे टिक-टॉक न चलाने की सलाह भी दी। लेकिन अनीता पर इन बातों का कोई असर नहीं हुआ। एक मौका ऐसा भी आया जब अनीता की बेटी खेलते हुए चोटिल हो गई और अनीता एप में व्यस्त होने की वजह से इस घटना से अनजान थी. परिवार वालों ने दोबारा अनीता के पति को चेताया। इसके बाद फोन पर पलनिवेल और अनीता की बहस हुई। पलनिवेल ने अनीता से कहा कि अगर उसने अपनी आदत में बदलाव नहीं किया तो वो उसका फोन तोड़ देगा। इस बात से दुखी होकर अनीता ने भयावह कदम उठाया और वीडियो रिकॉर्ड करते हुए जहर पी लिया। उसे अस्पताल ले जाया गया लेकिन उसने दम तोड़ दिया।

लड़के का वीडियो देखने के बाद 14 साल की लड़की ने  घर छोड़ दिया

देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में टिक-टॉक से जुड़ा एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। जहां टिक-टॉक पर एक लड़के का वीडियो देखने के बाद 14 साल की लड़की ने उससे मिलने के लिए घर छोड़ दिया। लेकिन जैसे ही परिजनों को इसकी जानकारी हुई तो उन्होंने तुरंत पुलिस को सूचित किया। जिसके बाद पुलिस ने आठ घंटे के भीतर लड़की को ढूढ़ निकाला। बताया जा रहा है कि घर छोड़ने से पहले इस लड़की ने अपनी मां के नाम एक चिट्ठी लिखी थी। अपनी इस चिट्ठी में उसने लिखा था कि मम्मी मैं घर छोड़कर जा रही हूं क्योंकि पापा का बर्ताव मुझे पसंद नहीं है। मेरे बारे में ज्यादा मत सोचना और खुद को नुकसान मत पहुंचाना। अगर आपको लगता है कि मैं किसी लड़के के साथ रहने के लिए घर छोड़ रही हूं तो आप बिल्कुल गलत हैं। मैं सिर्फ आजादी की तलाश में जा रही हूं। जिसके बाद परिजनों ने पुलिस को सूचना दी। मामले की जानकारी मिलते ही पुलिस अधिकारियों ने लड़की की तलाश शुरू कर दी और मात्र आठ घंटे के भीतर लड़की को ढूढ़ निकाला।  पुलिस अधिकारियों ने बताया कि लड़की अपने पिता के रवैये से खुश नहीं थी। उसका कहना है कि उसके पिता उसे कभी भी लड़कों से बात नहीं करने देते थे। ऐसे में जब एक बार वो अपने दोस्त से बात कर रही थी तो उसके पिता ने काफी डांटा था। पिता के इस रवैए से नाराज होकर उसने घर छोड़ने का फैसला कर लिया था। जबकि उसके पिता का कहना है कि वह टिक-टॉक स्टार रियाज आफरीन से मिलने जाना चाहती थी। जो नेपाल में रहता है।

Latest News

World News