Trending News

26 दिसंबर को साल का आखिरी सूर्य ग्रहण, यहां देखें सूतक काल और बचाव के उपाय

[Edited By: Gaurav]

Tuesday, 17th December , 2019 01:32 pm
इस साल का आखिरी सूर्य ग्रहण 26 दिसंबर को लगने वाला है. यह ग्रहण सुबह 8 बजकर 8 मिनट से प्रारंभ होकर 10 बजकर 58 मिनट तक रहेगा. ज्योतिषियों के अनुसार यह सूर्य ग्रहण खासकर मेष, वृश्चिक, मिथुन, तुला और मकर राशि पर गहरा असर डालने वाला है. ऐसे में आइए जान लेते हैं किस राशि पर इस सूर्य ग्रहण का क्या असर पड़ने वाला है और इसके बुरे असर से बचने के लिए मेष और मिथुन राशि के जातकों को क्या उपाय करने चाहिए.

सूर्य ग्रहण का समय और सूतक काल

भारतीय समयानुसार सूर्य ग्रहण सुबह 08 बजकर 17 मिनट पर लगेगा और 10 बजकर 57 मिनट में समाप्त हो जाएगा. खण्डग्रास की अवधि 2 घंटे 40 मिनट तक रहेगी. जबकि सूर्य ग्रहण में लगने वाला सूतक काल ग्रहण से 12 घंटे पूर्व लग जाएगा.

सूर्य ग्रहण का मेष राशि पर असर-

ज्योतिषियों की मानें तो इस ग्रहण की वजह से मेष राशि के जातकों के सम्मान में कमी या उन्हें अपमान झेलना पड़ सकता है.

मेष राशि के जातकों के लिए ग्रहण से बचने के उपाय-

1-मेष राशि के जातक रोजाना हनुमान चालीसा का पाठ करें.
2-इस राशि के जातक सफेद या काला सूरमा आंखों में लगाएं.
3-मेष राशि के लोग ग्रहण के बुरे असर को टालने के लिए खुद भी शुद्ध गुड़ खाएं और दूसरों को भी खिलाएं.
4-मसूर की दाल मंदिर में दान करें.
5-नीम के वृक्ष में जल चढ़ाएं और उसकी पूजा करें.

सूर्य ग्रहण का मिथुन राशि पर असर-

26 दिसंबर को लगने वाले इस सूर्य ग्रहण की वजह से मिथुन राशि के जातकों को अपनी सेहत के साथ अपने पिता की भी सेहत संबंधी परेशानियां झेलनी पड़ सकती हैं. इसके अलावा इस राशि के जातकों के दांपत्य जीवन और नौकरी में भी उथल-पुथल हो सकती है.

मिथुन राशि के जातकों के लिए ग्रहण से बचने के उपाय-

1- मिथुन राशि के जातकों को सूर्य ग्रहण से बचने के लिए अपने घर के दरवाजे के पास मनी-प्लांट नहीं लगाना चाहिए.
2-इस राशि के जातक घर में कोई पक्षी और मछली पालने की गलती न करें.
3-यदि कुंडली में बुध खराब हो तो साबूत हरे मूंग का दान करें.
4- चमड़े की जैकेट पहनने से बचें साथ ही हरे रंग का उपयोग और झूठ भी न बोलें.

किस राशि और नक्षत्र में लग रहा है सूर्य ग्रहण

सूर्य ग्रहण गुरु की राशि धनु और मूल नक्षत्र में लग रहा है. मूल नक्षत्र का स्वामी ग्रह केतु है. सूर्य ग्रह, धनु राशि और मूल नक्षत्र के बीच की सामंजस्यता को देखें तो इन तीनों के मध्य अच्छी सामंजस्यता दिखाई दे रही है.

सूर्य ग्रहण के दौरान बरतें ये सावधानियां

  • गर्भवती महिलाओं को ग्रहण के दौरान घर से बाहर नहीं निकलना चाहिए।
  • सूर्य ग्रहण को आंखों पर बिना किसी सुरक्षा के नहीं देखना चाहिए।
  • आंखों पर ग्रहण के दौरान प्रयोग किये जाने वाले चश्मे लगाने चाहिए।
  • इस अवधि में चाकू, छुरी या तेज धार वाली वस्तुओं का प्रयोग न करें।
  • ग्रहण के दौरान भोजन और पानी का सेवन न करें।
  • इस समय पूजा करना और स्नान करना भी शुभ नहीं माना जाता।
  • ग्रहण के दौरान आदित्य हृदय स्तोत्र का पाठ कर सकते हैं।
  • ग्रहण के बुरे प्रभावों से बचने के लिये महा मृत्युंजय मंत्र का जाप करें।

Latest News

World News