Trending News

शर्लिन चोपड़ा ने किया कंगना रणौत का समर्थन, बोलीं- 'माल फूंक कर डिप्रेशन के नारे लगाते हैं'

[Edited By: Vijay]

Monday, 12th October , 2020 11:15 am

बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रणौत ने शनिवार को वर्ल्ड मेंटल हेल्थ डे पर अपनी फिल्म 'जजमेंटल है क्या' का जिक्र करते हुए लोगों से इसे देखने की अपील की थी। कंगना ने कहा कि उन्होंने ये फिल्म जागरुकता फैलाने के मकसद से बनाई थी लेकिन चंद लोगों ने इस पर विवाद पैदा कर दिया और फिल्म की रिलीज में अड़चन डाल दी। इसके साथ ही कंगना ने बिना नाम लिए दीपिका पादुकोण पर निशाना साधा। इस मुद्दे पर अब शर्लिन चोपड़ा ने कंगना का समर्थन किया है।

दरअसल 10 अक्तूबर को ट्वीट करते हुए कंगना रणौत ने लिखा था, 'फिल्म जो हमने मेंटल हेल्थ जागरुकता के लिए बनाई थी उसे उन लोगों ने कोर्ट में घसीट लिया जो डिप्रेशन की दुकान चलाते हैं। मीडिया बैन के बाद फिल्म का नाम बदला गया जिससे इसकी मार्केटिंग पर बहुत असर पड़ा लेकिन यह एक अच्छी फिल्म है और इसे आज ही देखें।'

कंगना रणौत के ट्वीट को शर्लिन चोपड़ा ने रिट्वीट किया और अपनी प्रतिक्रिया देते हुए लिखा, 'कंगना जी, सही कहा आपने, ये लोग माल फूंक के डिप्रेशन के नारे लगाते हैं और देश की युवा पीढ़ी को अंधकार में ढकेलते हैं। दो वक्त की रोटी कमाने के लिए जो मजदूर सुबह शाम मजदूरी करता है, क्या उसे डिप्रेशन नहीं होता है? क्या डिप्रेशन से राहत पाने के लिए हम माल का सेवन करना शुरू कर दें?'

सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में ड्रग्स का एंगल आने के बाद कंगना रणौत ने ट्वीट किया, 'मेरे बाद दोहराएं, डिप्रेशन नशीली दवाओं के दुरुपयोग का एक नतीजा है। तथाकथित हाई सोसाइटी के अमीर स्टार किड, जो आला दर्जे और अच्छी परवरिश होने का दावा करते हैं, अपने मैनेजर से पूछते हैं, माल है क्या?'

 

 

 

Latest News

World News