Trending News

असम में विरोध प्रदर्शन के दौरान हिंसा भड़काने वाले 3000 से ज्यादा गिरफ्तार, जामिया के बाहर शांतिपूर्ण मार्च

[Edited By: Gaurav]

Tuesday, 17th December , 2019 12:39 pm

केंद्र सरकार की ओर लागू किए जाने वाले नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) को लेकर प्रदर्शन थमने का नाम नहीं ले रहा है. असम में भारी विरोध प्रदर्शन के दौरान हिंसा भड़काने वाले तीन हजार से ज्यादा लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है. उधर दिल्ली के जामिया मिल्लिया इस्लामिया विश्वविद्यालय के बाहर शांतिपूर्ण प्रदर्शन शुरू हो गया है. इस प्रदर्शन में टीचिंग स्टाफ और छात्र शामिल हैं.

असम हिंसक विरोध प्रदर्शन के दौरान 3,000 से अधिक लोगों को हिरासत में लिया और 190 लोगों को गिरफ्तार किया. वहीं अब-तक 136 मामले दर्ज किए गए हैं. केरल में नागरिकता कानून (सीएए) के विरोध प्रदर्शन के दौरान सड़कों पर जाम लगा. अधिकारियों के अनुसार सरकारी और निजी बसों पर पथराव किया गया है. नागरिकता संशोधन कानून 2019 के विरोध में केरल में मंगलवार को लगभग 33 संगठनों द्वारा राज्यव्यापी बंद बुलाया गया है. पुलिस ने राज्य के विभिन्न हिस्सों से लगभग 100 लोगों को हिरासत में ले लिया है.

एलडीएफ ने विरोध तेज करने का फैसला किया

नागरिक संशोधन कानून पर चर्चा के लिए लेफ्ट डेमोक्रेटिक फ्रंट (एलडीएफ) की एक महत्वपूर्ण राज्य समिति की बैठक के बाद गठबंधन ने राज्य भर में नए कानून के खिलाफ अपना विरोध तेज करने का फैसला किया है.26 जनवरी को गणतंत्र दिवस पर एक मानव श्रृंखला बनाकर प्रदर्शन करने का भी फैसला किया है.

सम्भल में आधी रात तक इंटरनेट बंद रहेगा

सम्भल जिला प्रशासन ने बताया है कि जिले में आज आधी रात तक इंटरनेट बंद रहेगा. नागरिकता कानून के खिलाफ हिंसक विरोध प्रदर्शन के बाद यह कदम उठाया गया है.

ममता बनर्जी के खिलाफ रिट याचिका दायर

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के बयान पर कलकत्ता उच्च न्यायालय में दायर की रिट याचिका दायर की गई. याचिका में कहा गया है कि ममता बनर्जी ने कहा कि राज्य में नागरिकता संशोधन कानून को लागू नहीं किया जाएगा और राज्य सरकार द्वारा मीडिया में सार्वजनिक धन का उपयोग करते हुए विज्ञापन किया गया.

शिलांग में कर्फ्यू में ढील, बंगाल में विरोध प्रदर्शन जारी

शिलांग में सुबह 6 से शाम 7 बजे तक कर्फ्यू में ढील दी गई है. मोबाइल इंटरनेट सेवाओं पर अभी भी प्रतिबंध लागू है. पश्चिम बंगाल के कुछ हिस्सों में नागरिकता कानून के खिलाफ विरोध प्रदर्शन जारी.

मंगलवार को सुबह से जामिया विश्वविद्यालय के गेट संख्या 7 पर कुछ छात्र और स्थानीय नागरिक जमा हैं, लेकिन अभी नारेबाजी नहीं हो रही है. कालिंदी कुंज और डीएनडी पर डायवर्जन के चलते अक्षरधाम से सराय काले खां तक तकरीबन 5 किलोमीटर तक जाम लगा हुआ है. वहीं, रूट डायवर्जन की कड़ी में कालिंदी कुंज मार्ग बंद कर दिया है, जिससे वाहन चालकों ने ट्रैफिक अक्षरधाम और एनएच 24 दबाव बढ़ा दिया है. इसके चलते आश्रम जाने वाले डीएनडी पर भी ट्रैफिक जाम लग गया है.

Latest News

World News