Trending News

इज़राइल और बहरीन में शांति समझौता!, ट्रंप ने दी जानकारी

[Edited By: Rajendra]

Saturday, 12th September , 2020 12:19 pm

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने 11 सितंबर को इजरायल और बहरीन के बीच एक ऐतिहासिक शांति समझौते की घोषणा की। रिपोर्टों के अनुसार, बहरीन के क्राउन प्रिंस सलमान बिन हमद अल खलीफा 15 सितंबर इजरायल और संयुक्त अरब अमीरात के बीच पहले शांति समझौते के जश्न में शामिल होने के लिए वाशिंगटन का दौरा करेंगे।

इजरायल-बहरीन शांति समझौता ट्रम्प प्रशासन के लिए पिछले महीने इजरायल-यूएई शांति समझौते के बाद एक और राजनयिक जीत है। बहरीन अब मध्य पूर्व में इजरायल को पूरी तरह से मान्यता देने वाला चौथा राष्ट्र है। इजरायल के साथ राजनयिक संबंध रखने वाले अन्य मध्य पूर्वी देश मिस्र हैं, जिसने उसे 1979 में मान्‍यता दी थी, जबकि 1994 में वह जॉर्डन से संबंधों को सामान्य कर चुका है।

इससे पहले, अमेरिकी अधिकारियों ने कहा था कि वह वर्तमान में यूएई की तरह इज़राइल के साथ शांति समझौते पर हस्ताक्षर के लिए अन्य अरब देशों के साथ बातचीत कर रहे हैं। विशेषज्ञों का मानना है कि संयुक्त अरब अमीरात और बहरीन के बाद सूडान भी इजरायल के साथ शांति समझौते पर हस्ताक्षर करने के लिए तैयार है।

इजरायल और यूएई के बीच संबंधों को सामान्य बनाने वाले समझौते पर हस्ताक्षर समारोह 15 सितंबर को आयोजित किया जाएगा। दोनों देशों के प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू और यूएई के विदेश मंत्री शेख अब्दुल्ला बिन जायद अल-नाहयान करेंगे। इजरायल के नेता ने समारोह को 'ऐतिहासिक' कहा है और एक ट्वीट में कहा कि उन्हें समारोह में भाग लेने के लिए 'गर्व' था।

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प को 2021 के नोबेल शांति पुरस्कार के लिए नामित किया गया है, क्‍योंकि उन्‍होंने इजरायल और संयुक्त अरब अमीरात के बीच शांति समझौते में महत्‍वपूर्ण भूमिका निभाई है। नॉर्वेजियन संसद के एक सदस्य क्रिश्चियन टाइब्रिंग-गेज्डे ने ट्रम्प को नामित किया, जब उन्होंने दो मध्य पूर्व देशों के बीच संबंधों के सामान्यीकरण के लिए सौदे को सफलतापूर्वक पूरा किया।

इजरायल और खाड़ी देश बहरीन अपने संबंधों को पूरी तरह से सामान्य बनाने के लिए एक ऐतिहासिक समझौते करने पर सहमत हुए हैं. इस बात की घोषणा अमरीका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने की. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ट्वीट के जरिए यह घोषणा की.

बहरीन-इजरायल डील के बाद अमेरिकी राष्‍ट्रपति ने ट्वीट कर लिखा, "आज एक और ऐतिहासिक सफलता! हमारे दो महान दोस्त इजरायल और किंगडम ऑफ बहरीन शांति समझौते के लिए सहमत हैं. 30 दिन के अंदर इजरायल के साथ शांति समझौता करने वाला दूसरा अरब देश."

यह ट्रंप के लिए दो महीने के अंदर दूसरी डिप्लोमेटिक जीत है. माना जा रहा है कि इससे उन्हें देश में होने वाले राष्ट्रपति चुनाव में इजराइल समर्थक इवांजेलिकल क्रिश्चन्स में अपनी पैठ बनाने में मदद मिलेगी.

जानकारों के मुताबिक अमेरिकी राष्‍ट्रपति चुनाव से ठीक पहले डोनाल्ड ट्रंप, इजरायल समर्थक ईसाइयों को अपने पाले में ला सकेंगे. पिछले हफ्ते ही ट्रंप ने कोसोवो के इजरायल को मान्‍यता देने और सर्बिया के तेलअवीव से यरूशलम में दूतावास के ले जाने की सहमति देने की घोषणा की थी.

ट्रम्प, नेतन्याहू और किंग हमाद ने एक साझा बयान में कहा गयै है कि यह मिडिल ईस्ट के लिए एक ऐतिहासिक समझौता होगा. अच्छी अर्थव्यवस्था और डायनेमिक सोसाइटी वाले इन दोनों देशों (बहरीन और इजरायल) के बीच खुली बातचीत से क्षेत्र में एक अच्छा बदलाव आएगा. स्थिरता और सुरक्षा बढ़ेगी और समृद्धि आएगी.

Latest News

World News