Trending News

राज्यसभा उपसभापति पद के लिए एनडीए ने मारी बाजी

[Edited By: Rajendra]

Monday, 14th September , 2020 06:14 pm

जद (यू) सदस्य और राजग की ओर से उम्मीदवार हरिवंश नारायण सिंह ने दूसरी बार राज्यसभा के उपसभापति पद के लिए निर्वाचित हुए। सिंह ने राजद के मनोज झा को मात दी।

राज्यसभा उपसभापति के चुनाव में NDA को जीत मिली है। NDA के उम्मीदवार हरिवंश एक बार फिर राज्यसभा के उपसभापति चुने गए हैं। वो लगातार दूसरी बार इस पद के लिए चुने गए हैं। 245-सदस्यीय राज्यसभा में भाजपा के नेतृत्व वाले राजग के सदस्यों की संख्या 116 है। वर्तमान में उच्च सदन की सदस्य संख्या 244 है।

जनता दल यूनाइटेड के नेता हरिवंश सिंह फिर से राज्यसभा के उपसभापति चुन लिए गए हैं। विपक्ष की ओर से आरजेडी उम्मीदवार और सांसद मनोज झा को हराया। वाईएसआर कांग्रेस और बीजू जनता दल (बीजद) जैसे गैर-राजग दल हरिवंश का समर्थन किया। राज्यसभा में वाईएसआर कांग्रेस के नौ और बीजद के सात सदस्य हैं।

राज्यसभा में PM मोदी ने कहा कि इस बार ये सदन अपने इतिहास में सबसे अलग और विषम परिस्थितियों में संचालित हो रहा है। कोरोना के कारण जैसी परिस्थितियां हैं, उसमें ये सदन काम करे, देश के लिए जरूरी जिम्मेदारियों को पूरा करे, यह हमारा कर्तव्य है। सदन में पीएम मोदी ने कहा कि हरिवंश नारायण पर जेपी का प्रभाव है।

हरिवंश पहले भी राज्यसभा के उपसभापति रह चुके हैं। राज्यसभा सदस्य के रूप में उनका कार्यकाल इसी साल समाप्त होने के बाद यह पद खाली हुआ था। एक बार फिर वह जद(यू) के उम्मीदवार के रूप में राज्यसभा के सदस्य बने हैं। साल 2018 में राज्यसभा के उपसभापति पद के लिए हुए चुनाव में हरिवंश ने कांग्रेस के उम्मीदवार बी के हरिप्रसाद को आसानी से पराजित किया था।

इस चुनाव में हरिवंश को 125 मत मिले थे जबकि प्रसाद को 105 मतों से संतोष करना पड़ा था। साल 2018 के मुकाबले राज्यसभा में भाजपा की स्थिति मजबूत हुई है जबकि विपक्ष की ताकत कमजोर हुई है और उसका संख्या बल भी कम हुआ है। अब जबकि कांग्रेस हरिवंश को चुनौती देने के लिए विपक्षी खेमे से संयुक्त उम्मीदवार उतारने की तैयारी कर रही है, ऐसे में चुनाव होना स्वाभाविक लग रहा था।

Latest News

World News