Trending News

अवैसी के बयान ''नहीं चाहिए खैरात की 5 एकड़ जमीन'' पर आगबबूला हुए बाबा रामदेव, कहा-''गद्दारी वाली भाषा''

[Edited By: Admin]

Saturday, 9th November , 2019 04:35 pm

अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले को लेकर ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लमिन (AIMIM) चीफ असदुद्दीन ओवैसी के बयान पर बाबा राम देव ने आपत्ति जताई है. बाबा रामदेव ने कहा कि अवैसी अपनी राजनीतिक रोटियां सेंकने के लिए धार्मिक भावनाएं भड़काने का काम कर रहे हैं.

अवैसी ने सुप्रीम कोर्ट के जजमेंट पर कहा, 'मैं वकीलों की टीम को धन्यवाद देता हूं. मैं मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड की इस बात से सहमत हूं कि सुप्रीम कोर्ट सुप्रीम है, लेकिन वह अचूक नहीं है. मुस्लिम समाज ने अपने वैधानिक हक के लिए संघर्ष किया. हमें 'खैरात' की जरूरत नहीं है. ये मेरा निजी तौर पर मानना है कि हमें 5 एकड़ जमीन के ऑफर को वापस लौटा दिया जाना चाहिए.'उन्होंने आगे कहा कि फैक्ट्स पर आस्था की जीत हुई है. और मुझे इस बात की चिंता है कि संघ अब काशी और मथुरा के मुद्दे के भी उठाएगा.

ओवैसी के इस बयान के बाद चारों तरफ से निंदा होनी शुरू हो गई है और इसे भड़काऊ माना जा रहा है. बाबा रामदेव ने ओवैसी के बयान की निंदा करते हुए कहा कि यह कोई बात नहीं हुई, गद्दारी वाली भाषा और व्यवहार उनकी आदत है. अगर वह अपनी नस्लों को यह बताएंगे कि बाबरी मस्जिद गिराई गई तो हम भी अपनी आने वाली पीढ़ियों को बताएंगे हिन्दुओं के इस देश में बाहरी मुसलिम आक्रांता मोहम्मद बिन कासिम आया, बाबर आया, अकबर-हुमायूं आया देश को लूटा और नरसंहार किया. बाबा रामदेव ने कहा कि ऐसा कोई काम नहीं होना चाहिए, एक विवाद था वो खत्म हुआ और अब हमारी जिम्मेदारी है कि हम सभी विकास के रास्ते पर आगे बढ़ें.

Latest News

World News