Trending News

हेपेटाइटिस बी और सी का होगा मुफ्त इलाज, इन 5 राज्यों के मरीजों के लिए राहत भरी खबर,

[Edited By: Vijay]

Friday, 4th December , 2020 11:41 am

हेपेटाइटिस बी और सी के मरीजों के लिए राहत भरी खबर है। उन्हें जांच या उपचार पर अब हजारों रुपये खर्च नहीं करने पड़ेंगे। अब हेपेटाइटिस बी-सी की जांच संग उपचार मुफ्त होगा। खास तौर पर पांच राज्य ऐसे हैं जहां से इस बीमारी के मामले बहुत आते हैं। ऐसे में यहां के मरीजों को बहुत सुविधा होगी। बीएचयू स्थित चिकित्सा विज्ञान संस्थान के सर सुंदरलाल चिकित्सालय में यह मुफ्त जांच शुरू होने जा रही है। अहम बात यह है कि यहां वायरल लोड जांच इसी माह शुरू होने जा रही है। जिस वायरल लोड की जांच यहां शुरू होने जा रही है, उसे कराने में अभी बाजार में मरीजों को काफी पैसा खर्च करना होता है। जिस गैस्ट्रोएंट्रोलाजी विभाग में यह सुविधा होगी, वह माडल ट्रीटमेंट सेंटर बना है। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने दवा उपलब्ध कराई है। गैस्ट्रोएंट्रोलाजी विभाग की ओपीडी में हेपेटाइटिस बी व सी के प्रतिमाह लगभग 250 मरीज आते हैं। लिवर और पेट की समस्या निदान के लिए अधिक भीड़ इसी ओपीडी में होती है। पूर्वांचल, छत्तीसगढ़, बिहार, झारखंड, एमपी से मरीज आते हैं। गैस्ट्रोएंट्रोलाजी विभाग के प्रो. वीके दीक्षित ने बताया कि मुफ्त इलाज नेशनल वायरल हेपेटाइटिस कंट्रोल प्रोग्राम के तहत हो रहा। डब्ल्यूएचओ का उद्देश्य 2030 तक हेपेटाइटिस पर नियंत्रण का है। इसके तहत गत माह से मरीजों को टीका एवं दवा मुफ्त दी जाने लगी है। वायरल लोड जांच माइक्रोबायोलाजी विभाग को करनी है। विभाग की प्रो. अनुपूर्बा ने कहा कि जल्द ही जांच शुरू कर दी जाएगी। बीएचयू के सर सुंदरलाल चिकित्सालय के एमएस प्रो. एसके माथुर का कहना है कि हेपेटाइटिस बी व सी की मुफ्त जांच व उपचार को निर्देश दिया गया है। उम्मीद है इसी माह से यह सुविधाएं मिलने लगेंगी।

बाजार में 3 हजार की होती है जांच

हेपेटाइटिस बी की जांच बाहर में करीब दो हजार व हेपेटाइटिस सी की जांच तीन हजार में होती है। हेपेटाइटिस के इलाज में 30 से 40 हजार रुपये तक खर्च होते हैं। कोर्स तीन से छह माह में पूरा हो जाता है। हेपेटाइटिस का उपचार आजीवन चलता है, जिसमें प्रतिमाह लगभग 700 रुपये खर्च होते हैं। ऐसे में बीएचयू में यह सुविधाएं मुफ्त मिलने से मरीजों को राहत मिलेगी।

वायरल लोड जांच क्या है

वायरल लोड जांच से यह पता चलता है कि मरीज के खून में हेपेटाइटिस बी या सी की मात्रा कितनी है, कितना नुकसान हो सकता है। इससे इलाज होने न होने के बारे में भी पता चलता है। अन्य जांच से सिर्फ हेपेटाइटिस है या नहीं यह पता चलता है।

एक नजर :

- बीएचयू में हेपेटाइटिस बी व सी का मुफ्त उपचार

- गैस्ट्रोएंट्रोलाजी विभाग में बना है माडल ट्रीटमेंट सेंटर

- सर सुंदरलाल अस्पताल में प्रतिमाह आते हैं 250 मरीज

 

Latest News

World News