Trending News

लखनऊवासियों की जुबान पर घुलेगी गुड़ की मिठास, योगी सरकार कर रही गुड़ महोत्सव की तैयारी

[Edited By: Punit tiwari]

Tuesday, 19th January , 2021 01:37 pm

लखनऊ- दशहरी आम की मिठास के लिए मशहूर नवाबों के शहर के लोग जल्द ही गुड़ के गुण, मिठास, रेंज और अन्य खूबियों से भी वाकिफ होंगे। मिशन किसान कल्याण के तहत राजधानी में राज्य गुड़ महोत्सव का आयोजन किया जाएगा। वैसे तो यह आयोजन पिछले साल ही होना था, पर कोरोना संक्रमण के चलते इसे स्थगित करना पड़ा। अब चीनी उद्योग एवं गन्ना विकास विभाग फिर इसकी तैयारियों में जुट गया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इस महोत्सव का उद्घाटन करेंगे।

पिछले दिनों विभाग के अपर मुख्य सचिव संजय भूस रेड्डी की अध्यक्षता में हुई बैठक में इसके प्रारूप और मकसद पर विस्तार से चर्चा हुई। वैसे इसकी संभावित तिथि 13 और 14 फरवरी हो सकती है। इसमें गुड़ की ब्रैंडिंग और उससे जुड़े उत्पादों का प्रदर्शन किया जाएगा। अधिक से अधिक लोग महोत्सव में शामिल होकर गुड़ के गुण और रेंज से वाकिफ हो, इसके लिये इसका व्यापक प्रचार-प्रसार भी होगा। आयोजन में प्रदेश भर के प्रगतिशील गन्ना किसानों को आमंत्रित किया जाएगा। इसमें कृषि और खाद्य प्रसंस्करण क्षेत्र के कई विशेषज्ञ उत्पादक भी हिस्सा लेंगें।

वन डिस्ट्रिक्ट, वन प्रॉडक्ट' (ODOP) मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की बेहद महत्वाकांक्षी योजना है। गुड़ मुजफ्फरनगर और अयोध्या का ओडीओपी है। मुजफ्फरनगर में गुड़ महोत्सव आयोजित हो चुका है। गौरतलब है कि किसानों की आय दोगुना करने का लक्ष्य हासिल करने के लिए योगी सरकार कृषि आधारित उत्पादों की ब्रैंडिंग और उसका अच्छा मूल्य दिलवाने का लगातार प्रयास कर रही है। इसी कड़ी में यह आयोजन करवाया जा रहा है। इससे न केवल अयोध्या के गन्ना किसानों बल्कि उससे सटे बस्ती, अवध और पूर्वांचल के गन्ना उत्पादक को भी लाभ होगा। वह भी गुड़ के अन्य प्रोसेस्ड प्रोडक्ट्स के बारे में जान सकेंगे।

एक्सपर्ट्स के अनुसार गुड़ खुद में एक संपूर्ण आहार है। औषधीय गुणों के साथ यह ऊर्जा का भी स्रोत है। इसमें शरीर के लिए कई जरूरी पोषक तत्व (आयरन, कैल्शियम, फास्फोरस, विटामिन A और B) भरपूर मात्रा में मौजूद होते हैं। वहीं जरूरत के हिसाब से इसे विटामिन्स से फोर्टिफाइड कर कुपोषण भी दूर किया जा सकता है। यही वजह है कि अलग-अलग स्वाद और खुशबू में उपलब्ध मुजफ्फरनगर के गुड़ और इससे बने उत्पादों की देश और दुनिया में इतनी मांग है कि आपूर्ति नहीं हो पाती। गन्ना उत्पादक अन्य जिले में भी गुड़ के प्रोसेसिंग के जरिए गन्ने को संभावनाओं की खेती बना सकते हैं।

Latest News

World News