Trending News

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने रेटिंग एजेंसी मूडीज इनवेस्टर्स सर्विस द्वारा भारत की रेटिंग बीएए3 किए जाने को लेकर नरेंद्र नरेन्द्र मोदी सरकार पर निशाना साधा

[Edited By: Rajendra]

Tuesday, 2nd June , 2020 12:24 pm

मूडीज का अनुमान है कि चालू वित्त वर्ष के दौरान भारत की सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) में चार फीसदी तक गिरावट आ सकती है। भारत के मामले में पिछले चार दशक से अधिक समय में यह पहला मौका होगा जब पूरे साल के आंकड़ों में जीडीपी में गिरावट आएगी। इसी अनुमान के चलते मूडीज ने भारत की सरकारी साख रेटिंग को 'बीएए2' से एक पायदान नीचे कर 'बीएए3' कर दिया।

'बीएए3' सबसे निचली निवेश ग्रेड वाली रेटिंग है। इसके नीचे कबाड़ वाली रेटिंग ही बचती है। एजेंसी ने कहा है कि मूडीज ने भारत की स्थानीय मुद्रा वरिष्ठ बिना गारंटी वाली रेटिंग को भी बीएए2 से घटाकर बीएए3 कर दिया है। इसके साथ ही अल्पकालिक स्थानीय मुद्रा रेटिंग को भी पी-2 से घटाकर पी-3 पर ला दिया गया है।

कोरोना वायरस महामारी से लड़खड़ा रही अर्थव्यवस्था में नई जान डालने के लिए मोदी सरकार 20 लाख करोड़ रुपये के पैकेज का ऐलान कर चुकी है। हालांकि, विपक्ष खासकर कांग्रेस केंद्र पर लगातार हमलावर है। विपक्ष का आरोप है कि मोदी सरकार कोविड-19 से पैदा हुए हालात से सही से नहीं निपट पा रही है और अर्थव्यवस्था के मोर्चे पर भी बुरी तरह नाकाम है।

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने रेटिंग एजेंसी मूडीज इनवेस्टर्स सर्विस द्वारा हिंदुस्तान की रेटिंग बीएए2 से घटाकर बीएए3 किए जाने को लेकर मंगलवार को नरेंद्र नरेन्द्र मोदी सरकार पर निशाना साधा व दावा किया कि अर्थव्यवस्था के संदर्भ में स्थिति इससे ज्यादा बेकार होने वाली है.

उन्होंने ट्वीट किया, ''मूडीज ने मोदी की प्रतिनिधित्व में भारतीय अर्थव्यवस्था की स्थिति को कबाड़ (जंक) से एक कदम ऊपर रेट किया है. गरीबों व एमएसएमई क्षेत्र को मदद के अभाव का मतलब यह है कि आगे हालत ज्यादा बेकार होने वाली है.''

Latest News

World News