Trending News

सही और गलत में फर्क करने वाला बन सकता है मजदूर से मालिक, वित्त विशेषज्ञ ने यहां बताये हैं कुछ आसान तरीके  

[Edited By: Gaurav]

Wednesday, 27th November , 2019 01:36 pm

देश का हर नागरिक हर दिन किसी न किसी कंपनी का उत्पाद ख़रीद ही रहा है। सुबह उठने से लेकर रात में सोने से पहले दातुन-ब्रश, शेविंग क्रीम-ब्लेड, चाय-कॉफ़ी, साबुन-शैम्पू, तौलिया, अंडरवियर-बनियान, रोटी-कपड़ा और मकान में इस्तेमाल होने वाली तमाम चीजों का उपयोग करता ही है। रोज़मर्रा की इन तमाम चीजों को बनाकर कम्पनियां इन्हें हमारे घरों तक पहुंचाती हैं और हम इन चीजों को ख़रीदकर इन कंपनियों को बड़ा बनने में महत्वपूर्ण योगदान देते हैं।

Image may contain: 1 person, text

कई लोग इन कंपनियों के उत्पाद को ख़रीदकर तो कई दुकानदार इन उत्पादों को बेचकर भी इन कंपनियों को बड़ा बनाने में सहयोग कर रहे हैं। ख़रीददार एवं दुकानदार के अलावा इन कंपनियों के लिए काम करने वाले कर्मचारी भी इन कम्पनीयों को बड़ा बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं।

Image may contain: 1 person, sunglasses, text and closeup

आपके मेरे न चाहने पर भी आप इन कंपनियों को बड़ा बनने से कोई नहीं रोक सकता है क्योंकि आप जिन उत्पादों का उपयोग अपने रोज़मर्रा की ज़िंदगी में कर रहे हैं उन वस्तुओं का उपयोग आप बंद कर ही नहीं सकते हैं। आप और मेरे जैसे लाखों लोग देश दुनिया में इन कंपनीयों के उत्पादों का उपयोग रोज करते रहेंगे और इनके उत्पादों पर मुनाफ़े से इन कंपनियों की ऐसेट्स लगातार बढ़ती जाएगी। भविष्य में देश दुनिया पर इन कंपनियों का मालिकाना शासन-प्रशासन न हो इसमें भी कोई शक नहीं है। आप भी इन कंपनियों के मालिकाना हक़ के हिस्सेदार बन सकते हैं। तेज़ी से आगे बढ़ने वाली इन बड़ी-बड़ी कंपनियों की हिस्सेदारी आज ओपन मार्केट के इक्विटी स्टॉक एक्सेंज पर उपलब्ध है। जिसे कोई भी व्यक्ति ख़रीदकर इन कंपनियों के मालिकाना अधिकार का हिस्सेदार बन सकता है। 

Image may contain: 1 person, text

ऐसेट्स से बनेंगे धनवान 

पेन, कम्प्यूटर, मोबाइल, डायमंड, केमिकल, ज्वेलरी, शेयर सर्टिफ़िकेट इत्यादि के अलावा किसी भी तरह के इंस्ट्रुमेंट को बेचकर पैसा कमाना सामान्य है लेकिन इन वस्तुओं को बेचकर कमाए गए मुनाफ़े से धनवान बनना बिल्कुल अलग बात है। व्यापार आप कोई भी वस्तु अथवा सेवा के क्षेत्र में कर रहे हो, पर उन गुड्स अथवा सर्विसेज़ से प्राप्त मुनाफ़े की राशि को निवेश करने से ही कोई भी व्यक्ति अथवा परिवार का समूह धनवान बनता है। निवेश और बचत के बारे में भी लोगों के मन में कई आशंकाएं बनी हुई हैं। बार-बार धोखा खाने के बाद लोगों के मन में विश्वास की कमी से सही एवं ग़लत की सूझबूझ ख़त्म होने जा रही हैं। धनवान बनने के लिए व्यक्ति में सही और ग़लत को परखने की क्षमता होना जरूरी हैं।

Image may contain: 1 person, smiling, standing, sunglasses and text

जिस व्यक्ति या परिवार के मुखिया में सही-ग़लत को परखने की क्षमता नहीं हैं वह व्यक्ति, परिवार अथवा समूह कभी धनवान नहीं हो सकता है। कोई भी व्यक्ति, परिवार अथवा समूह को धनवान बनने के लिए कुल चार ऐसेटस् का उचित एलोकेशन मेंटेन करना पड़ता हैं। रियल इस्टेट, गोल्ड, इक्विटी और डेब्ट, इन चारों ऐसेट में से सबसे अधिक ग्रॉथ बिज़नेस एवं बिज़नेस में भागीदारी वाली ऐसेट ‘इक्विटी’ केटेगरी ही दे सकती है। चारों ऐसेटस में से इक्विटी ही एक मात्र ऐसी ऐसेट है जो व्यक्ति, परिवार अथवा समूह को धनवान बनाती है।

Image may contain: 1 person, smiling, text

इक्विटी के चुनने में कोई कन्फ़्यूज़न नहीं रहे इसके लिए आज मार्केट में कई म्यूचूअल फंड कंपनियां अपनी एक्स्पर्ट सेवाएं दे रही हैं। म्यूचूअल फंड ऐसेट मेनेजमेंट कंपनियां ही तो आज आम आदमी से लेकर कॉरपोरेट घरानों के लिए ऐसेट मेनेजमेंट का काम कर रही हैं। इक्विटी म्यूचूअल फंड के द्वारा ही आप अपने बच्चों के हायर एजुकेशन, शादी और स्वयं की रिटायरमेंट प्लानिंग गोल भी बना सकते हैं। गोल बनाकर प्लानिंग करने से एक पूरी पीढ़ी का जीना सार्थक हो जाता हैं।

लेखक- भरतकुमार सोलंकी (वित्त विशेषज्ञ)

Latest News

World News