Trending News

DSP देवेंदर सिंह की गिरफ्तारी के बाद कश्मीर से नई दिल्ली तक ख़तरे की घंटी

[Edited By: Rajendra]

Tuesday, 14th January , 2020 03:09 pm

श्रीनगर एयरपोर्ट पर तैनात डीएसपी देविंदर सिंह को हिज्बुल मुजाहिदीन के आतंकवादियों के साथ एक कार में पकड़ा गया। अब उससे पूछताछ में पिछले पता चला है कि वह लंबे समय से आतंकवादियों के संपर्क में थे। इस ख़बर ने श्रीनगर से दिल्ली तक सुरक्षा एजेंसियों को हैरान परेशान कर दिया है ।

DSP देविंदर सिंह की गिरफ़्तारी से राजनीति भी शुरू हो गई हैं

जम्मू-कश्मीर पुलिस की ऐंटी-हाइजैंकिंग यूनिट के डीएसपी देविंदर सिंह की आतंकवादियों के साथ संबंधों का खुलासे पर जारी बहस को लोकसभा में कांग्रेस संसदीय दल के नेता अधीर रंजन चौधरी ने नया मोड़ दिया है। उन्होंने कहा कि आतंकवादियों के साथ गिरफ्तार डीएसपी का नाम देविंदर सिंह की जगह देविंदर खान होता तो सोशल मीडिया पर आरएसएस की ट्रोल आर्मी हंगामा बरपा देती। उन्होंने कहा कि अब पुलवामा हमले की भयावह घटना के पीछे असल में किसका हाथ था, इसकी भी दोबारा जांच जरूरी है।

देविंदर सिंह की गिरफ़्तारी से श्रीनगर से नई दिल्ली तक ख़तरे की घंटियां बजने लगी हैं. वो एयरपोर्ट की सुरक्षा में तैनात एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी था

जम्मू-कश्मीर में पुलिस अफ़सर आतंकियों को लाने ले जाने और अपने घर में शरण देने का आरोपी पाया गया है. डीएसपी देविंदर सिंह को बीते शनिवार दो आंतकियों के साथ कुलगाम के क़रीब चेकिंग के दौरान गिरफ़्तार किया गया. उसके घर पर पड़े छापों में भी हथियार बरामद हुए हैं, उसकी निशानदेही पर दूसरी जगहों से भी हथियार मिले हैं. देविंदर सिंह के घर पर जम्मू-कश्मीर पुलिस ने सोमवार को नए सिरे से छापामारी की. देवेंदर सिंह हिज़्बुल मुजाहिदीन के कमांडर नावीद बाबू और उसके दो सहयोगियों इरफ़ान और रफ़ी को दक्षिण कश्मीर के शोपियां से अपने घर श्रीनगर तक लाया था. अगली सुबह शनिवार तो दस बजे वो जम्मू के लिए चले, लेकिन श्रीनगर से 50 किलोमीटर दूर वानपोह में पकड़ लिए गए.

जिन लोगों को वो लेकर जा रहा था, वे कट्टर आतंकवादी हैं. नावीद कश्मीर में हिज़्बुल मुजाहिदीन की कमान में दूसरे नंबर पर है. सोशल मीडिया के प्रचार में भी उसकी तस्वीरें हैं. 11 मज़दूरों और कई सुरक्षाकर्मियों पर हमले के सिलसिले में पुलिस को उसकी तलाश है. उसके सिर पर 20 लाख रुपये का इनाम है.

हिज़्बुल मुजाहिदीन का इरफ़ान बीते कुछ सालों में 5 बार पाकिस्तान जा चुका है. रफ़ी भी हिज़्बुल मुजाहिदीन का है. पुलिस अफसर के साथ 26 जनवरी से पहले दिल्ली जा रहे आतंकियों की ख़बर के बाद कई गंभीर सवाल उठ खड़े हुए हैं.

 

Latest News

World News