Trending News

लंबे समय से कांग्रेस विरोधी गतिविधियों में शामिल रही कांग्रेस विधायक अदिति सिंह पार्टी से निलंबित

[Edited By: Rajendra]

Thursday, 21st May , 2020 01:37 pm

अपनी ही पार्टी पर लगातार उंगली उठाने और मोदी व योगी सरकार के कार्यों की सराहना करने वाली विधायक अदिति सिंह को कांग्रेस ने पार्टी से निलंबित कर दिया है। दरअसल, रायबरेली सदर क्षेत्र की युवा विधायक अदिति सिंह ने कांग्रेस के प्रवासी कामगारों की मदद करने के लिए बसों का बेड़ा लगाने के मामले में कांग्रेस पर सवाल उठाए थे।

कांग्रेस विधायक अदिति सिंह ने ट्वीट में लिखा है कि आपदा के वक्त ऐसी निम्न सियासत की क्या जरूरत। कांग्रेस ने कामगार व श्रमिकों की मदद के लिए एक हजार बसों की सूची भेजी, उसमें भी आधी से ज्यादा बसों का फर्जीवाड़ा, 297 कबाड़ बसें, 98 ऑटो रिक्शा व एबुंलेंस जैसी गाड़ियां, 68 वाहन बिना कागजात के, ये कैसा क्रूर मजाक है, अगर बसें थीं तो राजस्थान, पंजाब, महाराष्ट्र में क्यूं नहीं लगाई। अदिति सिंह मंगलवार को कांग्रेस तथा उत्तर प्रदेश सरकार के बीच बस विवाद में कूद पड़ीं। इसके बाद विधायक अदिति सिंह ने कांग्रेस की नीयत पर ही सवाल उठाये।

खुद राजस्थान के सीएम ने भी इसकी तारीफ की थी। अदिति ने कहा कि योगी सरकार दूसरे राज्यों में फंसे प्रवासी मजदूरों को लाने के लिए हरसंभव प्रयास कर रही है। अदिति पिछले काफी समय से पार्टी लाइन के खिलाफ बगावती तेवर अपनाए हुए हैं।

कांग्रेस ने अदिति सिंह के इस कृत्य को अनुशासनहीनता मानते हुए आदिति सिंह को पार्टी से निलंबित कर दिया है। उनके खिलाफ पार्टी विरोधी गतिविधियों के चलते कार्रवाई हुई है। कांग्रेस विधायक अदिति सिंह ने प्रियंका गांधी की आलोचना करते हुए कहा था कि संकट के समय निम्न स्तर की राजनीति की क्या आवश्यकता थी। कांग्रेस ने इसे गंभीरता से लेते हुए विधायक अदिति सिंह को पार्टी की महिला विंग के महासचिव पद से निलंबित कर दिया। इसके साथ ही उनके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई शुरू कर दी है।

दबंग विधायक स्वर्गीय अखिलेश सिंह की बेटी अदिति सिंह 2017 में पहली बार विधायक निर्वाचित हुई है। युवा विधायक अदिति सिंह अपने क्षेत्र में काफी लोकप्रिय हैं और गांधी परिवार के भी बेहद करीब हैं। पार्टी से निलंबित करने से पहले भी बीते वर्ष नवम्बर में विधानसभा सदस्यता समाप्त करने का भी नोटिस दिया गया था। अदिति सिंह का योगी आदित्यनाथ सरकार से वाइ श्रेणी की सुरक्षा मिली है और बीते वर्ष ही पंजाब से कांग्रेस के विधायक अंगद सैनी से अदिति सिंह का विवाह हुआ था। इससे पहले उनके सांसद राहुल गांधी से भी विवाह को लेकर काफी जोरदार अफवाह फैली थी।

अदिति सिंह लंबे समय से कांग्रेस विरोधी गतिविधियों में शामिल रही हैं। पिछले साल पार्टी व्हिप का उल्लंघन करते हुये अदिति विधानसभा के विशेष सत्र में शामिल होने पहुंची थीं। इसके बाद उन्हें पार्टी की तरफ से कारण बताओ नोटिस भी जारी किया गया था। कश्मीर से धारा 370 हटाने के मसले पर भी अदिति ने कांग्रेस से अलग अपना पक्ष रखा था। कोरोना वॉरियर्स के लिए पीएम मोदी की अपील पर भी उन्होंने दीये जलाये थे।

Latest News

World News