Trending News

अफगानिस्तान में युद्ध से आठ गुना ज्यादा जानलेवा हुआ वायु प्रदूषण, 2017 से अब तक 26000 मौतें

[Edited By: Gaurav]

Wednesday, 13th November , 2019 06:13 pm

खतरनाक बमों की मार झेल चुका अफगानिस्तान इन दिनों प्रदूषण से मौतों के कारण चर्चा में है. यहां बमबारी से उतने लोग नहीं मारे गए जितनों की मौत प्रदूषण की वजह से हो चुकी है. अफगानिस्तान में युद्ध के दौरान 3483 लोग मारे गए थे मगर साल 2017 से अब तक यहां पर प्रदूषण से 26000 लोगों की मौत हो चुकी है.


अफगानिस्तान में युद्ध से बचने के लिए यहां के रहने वाले हजारों लोग अपना घर बार छोड़कर काबूल या कहीं और शिफ्ट हो चुके हैं मगर उसके बाद भी उनके जीवन पर खतरा मंडरा रहा है. जो लोग युद्ध का शिकार नहीं हुए अब उनका जीवन प्रदूषण की मार से खत्म हो जा रहा है. दरअसल इन दिनों ठंड का मौसम शुरू हो गया है, लोगों के पास अपने को गर्म रखने के लिए कोई साधन नहीं है. वो यहां पर जमा की गई पॉलीथिन आदि को जला रहे हैं और उससे अपने को गर्म रख रहे हैं. ये जलाई जाने वाली पॉलीथिन भी प्रदूषण का एक बड़ा कारण है.


अफगानिस्तान में प्रदूषण से अब तक कितने लोगों की मौत हो चुकी है, इसका कोई अधिकारिक रिकार्ड नहीं है. मगर एक शोध संस्थान 'स्टेट ऑफ ग्लोबल एयर' की ओर से बताया गया कि साल 2017 में 26000 से अधिक मौतें हो चुकी है. जबकि संयुक्त राष्ट्र की ओर से बताया गया था कि अफगानिस्तान में युद्ध के दौरान 3483 अफगानी नागरिक मारे गए थे.

अब यहां के लोगों के पास अपने लिए खाना बनाने के लिए प्राकृतिक साधन भी मौजूद नहीं है. जिस वजह से यहां के लोगों को प्लास्टिक जैसी चीजें जलाकर अपने घर का खाना बनाना पड़ रहा है. इस वजह से इन दिनों अफगानिस्तान में प्रदूषण का लेवल खतरनाक लेवल से भी अधिक है.

Latest News

World News