Trending News

800 साल बाद बन रहा अद्भुत संयोग, इस दिन आसमान में दिखेगा क्रिसमस स्टार

[Edited By: Vijay]

Saturday, 5th December , 2020 04:02 pm

 कोरोना महामारी के बीच इस महीने क्रिसमस का त्योहार खुशियां बांटने के लिए आने वाला है. इस बार क्रिसमस से ठीक पहले आकाश में एक अद्भुत खगोलीय घटना घटने जा रही है. इस बार के क्रिसमस से ठीक पहले आकाश में क्रिसमस का तारा दिखने वाला है और ऐसा साल या दो साल बाद नहीं, बल्कि पूरे 800 साल के बाद होने जा रहा है. अमेरिका की राइस यूनिवर्सिटी के खगोलविद ने इस बारे में बताया है. 21 दिसंबर को आकाश में क्रिसमस का तारा दिखाई देने वाला है. इसे क्रिसमस स्‍टार या बेथलेहम का तारा कहा जाता है.

बृहस्‍पति और शनि ग्रह एक सीधी रेखा में

21 दिसंबर को आकाश में बृहस्‍पति और शनि ग्रह एक सीधी रेखा में आ जाएंगे. मध्यकाल के बाद से अभी तक बृहस्‍पति और शनि ग्रह दोनों एक साथ पृथ्‍वी के बेहद करीब नहीं आए हैं. राइस यूनिवर्सिटी के खगोलविद पैट्रिक हर्टिगन ने फोर्ब्‍स पत्रिका से कहा कि बृहस्‍पति और शनि ग्रह 20 साल के बाद हमेशा एक सीधी रेखा में आते हैं, लेकिन इस बार का संगम आप में दुर्लभ घटना है. ऐसा इसलिए कि ये दोनों ही ग्रह काफी करीब आ जाएंगे और इंसान इन्‍हें देख सकते हैं.

 हर्टिगन ने कहा कि इससे पहले 4 मार्च 1226 को यह दुर्लभ घटना हुई थी. उस समय भी आकाश में क्रिसमस का तारा नजर आया था. 21 दिसंबर को सूर्यास्‍त के 45 मिनट बाद उत्‍तरी गोलार्द्ध में खगोलविद आकाश के दक्षिणी- पश्चिमी हिस्‍से को अगर नंगी आंखों या टेलिस्‍कोप की मदद से देखेंगे, तो उन्‍हें क्रिसमस का तारा नजर आएगा. हालांकि यह भी कहा जा रहा है कि यह अद्भुत नजारा पूरे सप्ताह भर नजर आएगा. फोर्ब्‍स के अनुसार, अगली बार ऐसा नजारा वर्ष 2080 में देखने को मिलेगा.

बृहस्पति ग्रह सूर्य से 5वां और हमारे सौरमंडल का सबसे बड़ा ग्रह हैं. इसे गैस का दानव भी कहते हैं. बृहस्पति ग्रह पृथ्वी से 11 गुना भारी और इसका द्रव्यमान 317 गुना ज्यादा हैं. यह सोलर सिस्‍टम का चौथा सबसे ज्‍यादा चमकने वाला ग्रह हैं. इसके अलावा जो अन्‍य ग्रह चमकते है वो हैं सूरज, चांद और वीनस हैं. वहीं, शनि उन पांच ग्रहों में से एक है, जिसे नग्न आंखों से देखा जा सकता है। यह सौरमंडल की पांचवीं सबसे चमकीली वस्तु भी है.

 

Latest News

World News